मुंबई। विराट कोहली और अनुष्का शर्मा का नया नाम ‘विरुष्का’ काफी सुर्खियों में है। विराट-अनुष्का इसी महीने इटली में शादी करेंगे, यह बात अब किसी से छुपी नहीं है क्योंकि दोनों के परिवार इस वक्त वहां पहुंच चुके हैं। शादी के लिए अनुष्का तो बाकायदा पंडित को लेकर गई है। शादी की बात छोड़िए…चर्चा इसकी हो रही है कि विवाह के बाद यह जोड़ा रहेगा कहां?
दिल्ली में या मुंबई में? दरअसल विराट और अनुष्का ने बहुत पहले से अपने आशियाने की योजना बना रखी थी और इसके लिए उन्होंने बाकायदा मुंबई के मशहूर रियल एस्टेट डेवलपर ‘ओमकार रील्टर्स एंड डेवलपर्स’ की आवासीय परियोजना ‘ओमकार 1973’ में 34 करोड़ रुपए का एक सर्वसुविधायुक्त फ्लैट बुक कराया था।

दोनों को ये फ्लैट इसलिए भी पसंद आया था क्योंकि यहां से समुद्र का खूबसूरत नजारा दिखाई देता है। मुंबई के वर्ली इलाके में स्थित 7171 स्क्वेयर फीट में फैले ‘ओमकार 1973’ में फ्लैट बुक कराने का सुझाव युवराज सिंह का था। विराट के सबसे करीबी दोस्तों में युवराज हैं, जिनका फ्लैट इसी अपार्टमेंट की 29वीं मंजिल पर है जबकि विराट का फ्लैट 35वीं मंजिल पर।

यानी शादी के बाद विराट-अनुष्का युवराज के पड़ौसी बनने जा रहे हैं। ओमकार रील्टर्स एंड डेवलपर्स का ‘ओमकार 1973’ इसलिए भी बहुर्चित हो गया है क्योंकि इस आवासीय योजना में बॉलीवुड, राजनीतिज्ञों और कई बड़े व्यावसायिक घरानों की कई हस्तियों लोगों ने अपने फ्लैट बुक करा रखे हैं।

चूंकि शादी के बाद भी अनुष्का अपना फिल्मी करियर जारी रखेगी, इसी गरज से विराट ने बहुत पहले यहां पर अपने फ्लैट की बुकिंग कर दी थी। यानी इटली से शादी करने के बाद मुंबई इनका आशियाना दोनों का इंतजार कर रहा है।

बहरहाल, इटली जाने के पहले तक अनुष्का की तरफ से शादी के बारे में इनकार किया जाता रहा है लेकिन जब दोनों के परिवार मय पंडित और करीबी लोगों के साथ वहां जा चुके हैं, तब कैसे मान लें कि वहां शादी की रस्में अदा नहीं की जाएगी?

विराट की शादी के लिए उनके कोच राजकुमार शर्मा भी इटली जा चुके हैं। विराट अपने इस कोच की बहुत इज्जत करते हैं, जिन्होंने उन्हें क्रिकेट का कखग सिखलाया है। राजकुमार अपने परिवार के तीन सदस्यों के साथ शादी में शामिल होने के लिए गए हैं।

राजकुमार को विराट इतना मान देते हैं कि यदि भारत में रह होते हैं तो उनके जन्मदिन पर दिल्ली पहुंच जाते हैं और यदि विदेश में होते हैं तो फोन पर शुभकामनाएं देना नहीं भूलते हैं।