नई दिल्ली। दिल्ली की एक विशेष अदालत ने हवाला मामले में भगोड़े उद्योगपति विजय माल्या को नोटिस जारी कर 27 अगस्त को हाजिर होने को कहा है। प्रवर्तन निदेशालय ने माल्या के खिलाफ भगोड़ा आर्थिक अपराधी विधेयक 2018 के तहत अदालत में आवेदन किया था, जिस पर संज्ञान लेते हुए यह नोटिस जारी किया गया है।

इस विधेयक के तहत माल्या की साढ़े बारह हजार करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की जानी है। निदेशालय के ट्विटर अकाउंट पर नोटिस जारी किए जाने की जानकारी दी गई है। माल्या की तरफ से इसी सप्ताह जारी एक बयान में कहा गया था कि वह सरकारी बैंकों के ऋण का भुगतान करने के लिए तैयार है।

माल्या का दावा है कि उसकी तरफ से सरकारी बैंकों के ऋण का भुगतान करने के लिए 2016 में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली को पत्र लिखकर अपना पक्ष स्पष्ट कर दिया गया था, किंतु उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं मिला था।