इलाहाबाद। उत्तरप्रदेश के फूलपुर संसदीय क्षेत्र में उपचुनाव के लिए मतदान भले ही रविवार को हो रहा है, मगर मतदाताओं को दी गई पर्ची में मतदान का दिन ‘गुरुवार’ तय किया गया है। मतदान केंद्रों पर बैठे अधिकारियों को इसका जरा भी आभास नहीं है कि मतदान पर्ची पर मतदान का दिन कौन सा दर्ज किया गया है?
निर्वाचन आयोग द्वारा जारी फोटो मतदाता पर्ची में दिनांक तो सही छपा है लेकिन दिन रविवार के स्थान पर ‘गुरुवार’ छपा है। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 254 फाफामऊ के लाल गोपालगंज बूथ पर मतदाता काशी प्रसाद जायसवाल और उनकी पत्नी मंगला ने अपना फोटो मतदाता पर्ची दिखाते हुए बताया कि उनकी पर्ची पर मतदान का दिन ‘गुरुवार’ दर्ज है जबकि मतदान रविवार को हो रहा है।

उन्होंने इसको प्रिंटिंग की गलती मानी लेकिन उनका कहना है कि निर्वाचन आयोग को समय रहते यह काम पहले से कर लेना चाहिए जिससे किसी प्रकार की कोई गलती नहीं हो। कई बूथों पर मतदाता का नाम गलत छपा है लेकिन उन्हें मतदान करने दिया गया। जायसवाल ने बताया कि मतदान स्थल पर बैठे अधिकारी को जब इसके बारे में बताया गया तो उन्होंने ‘गुरुवार’ को काटकर मतदान का दिन रविवार लिखा। मतदान के दिन की गलती छपे सभी फोटो मतदाता पर्ची में है।