केपटाउन। दक्षिण अफ्रीका के वित्तमंत्री नहलान्हला नेने ने घोटाले के आरोपी गुप्ता परिवार के साथ बैठक की बात स्वीकार करते हुए भारी दबाव के बाद इस्तीफा दे दिया। राष्ट्रपति सायरिल रामापोसा ने स्वशासन के हित को ध्यान रखते हुए उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है।

बीबीसी ने बुधवार को बताया कि गुप्ता परिवार पर पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा के साथ मिलकर मंत्रिमंडल में मंत्री बनवाने और सरकारी संपर्कों का गलत इस्तेमाल करने का आरोप है। गुप्ता परिवार और जुमा दोनों ने हालांकि इन आरोपों से इनकार किया है। पिछले सप्ताह नेने ने न्यायाधीश के नेतृत्व में हो रही जांच के समक्ष गुप्ता परिवार के साथ बैठक करने के आरोपों को स्वीकार कर लिया था।

नेने पहले गुप्ता परिवार के साथ किसी भी तरह की बैठक करने से इनकार कर रहे थे। गुप्ता परिवार के साथ बैठक की बात स्वीकार करने से भी यह साबित नहीं होता कि जुमा के शासनकाल में वित्तमंत्री रहते हुए व्यापारी गुप्ता परिवार के साथ बैठक करके उन्होंने कुछ गैरकानूनी कार्य किया है, लेकिन बैठक की बात को स्वीकार करने के बाद से ही उन पर इस्तीफा देने के लिए भारी दबाव था।

जुमा ने भी वर्ष 2015 में नेने को वित्तमंत्री के पद से हटा दिया था, लेकिन वर्तमान राष्ट्रपति ने फरवरी में उनको पुन: उनके पद पर नियुक्त कर दिया था। नेने ने वर्ष 2009 से 2014 के बीच कम से कम छह बार गुप्ता परिवार के साथ उनके जोहानसबर्ग निवास पर मुलाकात की थी।

वित्तमंत्री का व्यावसायिक घराने के सदस्यों के साथ मुलाकात करना प्रधम दृष्टया सामान्य दिखाई देता है, लेकिन गुप्ता परिवार पर अपने निवास स्थान पर बैठकें करके राजनीतिक निर्णयों को प्रभावित करने के आरोप हैं।