सिडनी। ऑस्ट्रेलिया के महान स्पिनर शेन वार्न ने क्रिकेट के इतिहास के सबसे विवादास्पद व्यक्तियों में से एक ‘बॉडीलाइन’ दौरे पर इंग्लैंड के कप्तान रहे डगलस जार्डिन का समर्थन किया जबकि पूर्व कप्तान स्टीव वॉ से अपने पुराने मतभेद फिर ताजा कर दिए।
दुनिया के दूसरे सबसे कामयाब टेस्ट गेंदबाज वार्न ने 708 विकेट लिए हैं। उन्होंने इस सप्ताह प्रकाशित अपनी किताब ‘नो स्पिन’ में जार्डिन की तारीफ की है। वार्न ने कहा कि उनका मानना है कि जार्डिन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से हैं।
उन्होंने लिखा कि डगलस जार्डिन ने ब्रैडमैन के सामने कामयाबी हासिल की और खेल के मानदंड बदलने का साहस उनमें था। जार्डिन को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट जगत में खलनायक के रूप में देखा जाता है। हैराल्ड लारवुड की अगुवाई में उनके तेज गेंदबाज बल्लेबाजों के शरीर को निशाना बनाते थे। उनका लक्ष्य ब्रैडमैन के बल्ले पर अंकुश लगाना होता था और उस समय ऑस्ट्रेलिया में इसे लेकर खासी नाराजगी थी।
इंग्लैंड ने इसी रणनीति के चलते 4-1 से श्रृंखला जीती लेकिन इससे ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के क्रिकेट संबंधों में तल्खी आ गई थी। वार्न ने पूर्व कप्तान स्टीव वॉ को ‘स्वार्थी’ कहा। उन्होंने कहा कि 1999 में विंडीज के खिलाफ एंटीगा में चौथे टेस्ट में जब वॉ ने उन्हें बाहर किया था तो उन्हें बहुत दु:ख हुआ था।
उन्होंने कहा कि उसके बाद मेरी नजर में उनका सम्मान कम हो गया। मुझे लगता है कि कप्तान को अपने खिलाड़ियों का साथ हर समय देना चाहिए। उससे खिलाड़ियों से इज्जत मिलती है और वे आपके लिए खेलते हैं। उन्हें वह सम्मान नहीं मिला। उन्होंने कहा कि स्टीव वॉ सबसे स्वार्थी खिलाड़ियों में से थे। उन्हें सिर्फ अपने औसत की चिंता थी।