तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके नेता एम. करुणानिधि के पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफनाया जाएगा। इसकी सुनवाई मद्रास हाईकोर्ट में हो रही है।
सुनवाई को मंगलवार रात हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के घर पर सुनवाई शुरू हुई थी, जिसे बुधवार सुबह तक के लिए स्थगित कर दिया। डीएमके का कहना है कि उनके नेता के शव को मरीना बीच पर स्थान मिले, जहां तमिलनाडु की राजनीति के दिग्गजों के शव दफनाए गए थे. लेकिन प्रदेश की एआईएडीएमके सरकार ने इसकी अनुमति नहीं दी।
डीएमके इसके खिलाफ हाईकोर्ट चली गई और देर रात ही इस मसले पर अदालत बैठी थी।।

– केन्द्र सरकार ने दिवंगत द्रमुक अध्यक्ष एवं तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किये जाने और एक दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है।

तमिलनाडु सरकार ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्रियों का अंतिम संस्कार मरीना बीच पर नहीं हुआ है। तमिलनाडु सरकार ने गांधी मं‍डपम में अंतिम संस्कार करने की बात कही है।

– कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सीपीआई प्रमुख सीताराम येचुरी, लेफ्ट नेता डी राजा समेत कई विपक्षी नेताओं और अभिनेता रजनीकांत ने डीएमके की इस मांग का समर्थन किया और सरकार से मरीना बीच पर दिवंगत नेता के लिए जगह देने की अपील की।