कानपुर। उत्तर प्रदेश में कानपुर के बिठूर क्षेत्र में हुई एक युवती की हत्या के आरोप में पुलिस ने उसके प्रेमी को आज गिरफ्तार किया है।
जब युवती ने शादी करने का दबाव बनाना शुरू किया तो कथित प्रेमी ने उसे रास्ते से हटाने की साजिश रच हत्या कर दी।

पुलिस अधीक्षक पश्चिम ने डॉ. गौरव ग्रोवर ने बताया कि हत्या के खुलासे में लव सेक्स और धोखा की कहानी सामने आई है। जिस शख्स ने युवती को मौत के घाट उतारा था, वह उसका प्रेमी ही निकला। जब युवती ने शादी करने का दबाव बनाना शुरू किया तो कथित प्रेमी ने उसे रास्ते से हटाने की साजिश रच हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि एक फरवरी की रात बिठूर थाना क्षेत्र के मंधना टिकरा रोड पर एक युवती का शव बरामद हुआ था।

पुलिस ने कई दिनों बाद शव की शिनाख्त कराई तो महिला की शिनाख्त मूल रूप से उन्नाव के हसनगंज थाना क्षेत्र के शेखपुर में रहने वाली आरती सिंह के रूप में हुई, जो कानपुर के नवाबगंज क्षेत्र में रह रही थी। ग्रोवर ने बताया कि आरती की शादी पहले दीपक शर्मा नाम के युवक से हुई थी। दीपक ने शादी के समय आरती से इस बात को छुपाया था कि वह पहले से शादीशुदा है।

इसकी जानकारी होने पर दीपक और आरती के बीच तलाक हो गया था। इसके बाद वह कानपुर के नवाबगंज क्षेत्र में रहकर सेल्स गर्ल का काम करने लगी। इस दौरान उसके संबंध रमाकांत से हो गए। रमाकांत पहले से शादीशुदा था लेकिन उसकी कोई संतान नहीं हो रही थी। उसने आरती से शादी करने की बात कहकर उसके साथ संबंध बनाए।

करीब तीन साल बाद जब आरती ने उस पर शादी करने का दबाव बनाना शुरू किया तो अपने दो साथियों के साथ मिलकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। शव को रोड पर फेंककर फरार हो गए। पुलिस ने मृतका की शिनाख्त के बाद तफ्तीश शुरू की तो हत्यारे के रूप में आरती का कथित प्रेमी रमाकांत सामने आया। पूछताछ करने पर उसने पुलिस के सामने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।