कोलकाता। कुलदीप यादव की अगुआई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन के बाद कम स्कोर वाले मैच में दिनेश कार्तिक की जुझारू पारी से भारत ने पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में विंडीज को पांच विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।

कप्तान कार्लोस ब्रेथवेट और तेज गेंदबाज ओशाने थामस ने 2-2 विकेट लेकर विंडीज को मैच में बनाए रखा लेकिन दिनेश कार्तिक के 34 गेंद पर नाबाद 31 रन और क्रुणाल पंड्‍या के 9 गेंदों पर नाबाद 31 रन की उपयोगी पारी से भारत 17.5 ओवर में पांच विकेट पर 110 रन बनाकर जीत दर्ज करने में सफल रहा।
इससे पहले ईडन गार्डन्स में कुलदीप ने 13 रन देखकर 3 और क्रुणाल पंड्‍या ने 15 रन पर एक विकेट लिया। इन दोनों की बलखाती गेंदों के सामने विंडीज की टीम आठ विकेट पर 109 रन ही बना सकी, जो भारत के खिलाफ उसका न्यूनतम स्कोर है। इससे पहले भारत के खिलाफ विंडीज का न्यूनतम स्कोर सात विकेट पर 129 रन था, जो उसने मार्च 2014 में ढाका में बनाया था।
विंडीज की ओर से सिर्फ फाबियान एलेन 27 रन बनाकर टॉप स्कोरर रहे जबकि कीमो पाल 13 गेंद में नाबाद 15 रन बनाकर टीम के दूसरे सर्वश्रेष्ठ स्कोरर रहे।
लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत की शुरुआत भी खराब रही और उसने 16 रन तक ही दोनों सलामी बल्लेबाज कप्तान रोहित शर्मा और शिखर धवन के विकेट गंवा दिए थे। रोहित ने थामस के पहले ओवर में चौके से खाता खोला लेकिन अंतिम गेंद पर विकेटकीपर दिनेश रामदीन को कैच दे बैठे। मैदानी अंपायर ने रोहित ने नाटआउट करार दिया, जिसके बाद विंडीज ने डीआरएस लेने का फैसला किया और तीसरे अंपायर ने फैसला गेंदबाज के पक्ष में सुनाया।
थामस ने अपने अगले ओवर में खराब फार्म से जूझ रहे धवन को भी बोल्ड किया। टेस्ट और वनडे के बाद ट्‍वेंटी ट्‍वेंटी में थामस ने पांचवीं बार धवन का शिकार किया। ऋषभ पंत भी सिर्फ एक रन बनाने के बाद कप्तान कार्लोस ब्रेथवेट की गेंद पर डेरेन ब्रावो के हाथों लपके गए। भारतीय टीम ने पावर प्ले में तीन विकेट पर 35 रन बनाए।
लोकेश राहुल भी इसके बाद 16 रन बनाकर ब्रेथवेट की गेंद पर डीप स्क्वेयर लेग पर ब्रावो को कैच दे बैठे। दिनेश कार्तिक ने थामस पर छक्के के साथ नौवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने कीरोन पोलार्ड का स्वागत तीन चौकों के साथ किया।
पांडे ने ब्रेथवेट पर चौका जड़ा लेकिन बायें हाथ के स्पिनर खैरी पियरे की गेंद पर उन्हीं को कैच दे बैठे। भारत को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 27 रन की दरकार थी। पंड्या ने फाबियन एलेन और पियरे पर चौके जड़े तथा कार्तिक के साथ मिलकर 17वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया।
पंड्या ने कीमो पाल पर चौका और फिर दो रन के साथ भारत को जीत दिलाई और अपने पदार्पण को यादगार बनाया। इस मैच में भारत की ओर से पंड्या और खलील जबकि विंडीज की तरफ से थामस, पियरे और एलेन ने पदार्पण किया।