जोहानसबर्ग। दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज हेनरिक्स क्लासेन ने कहा है कि चौथे मैच में डेथ ओवरों में जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार से गेंदबाजी न कराने का भारतीय कप्तान का फैसला हैरानी भरा है। क्लासेन ने शनिवार को चौथे वनडे मैच में 27 गेंदों पर पांच चौकों और एक छक्के की बदौलत नाबाद 43 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका को वर्षा बाधित मुकाबले में पांच विकेट से जीत दिलाने में अहम योगदान दिया।
मेजबान टीम छ: मैचों की सीरीज में 1-3 से पीछे है। क्लासेन ने कहा, ‘मैंने और डेविड मिलर ने सोचा था कि भारतीय टीम ने तेज गेंदबाजों को अंत के दो-दो ओवरों के लिए बचा के रखा होगा। मगर मुझे लगता है कि उन्होंने इस सीरीज में चली आ रही रणनीति के अनुसार ही डेथ ओवर स्पिनर से फेंकवाए। डेथ ओवरों में अपने प्रमुख तेज गेंदबाजों को न लाना कप्तान का हैरानी भरा फैसला है।’

उन्होंने कहा, ‘यह जीत हमारे आत्मविश्वास को बढ़ाएगी। पहले तीन मैच हारने से हमारा विश्वास डगमगाने लगा था मगर इस जीत ने हमें नई ऊर्जा दी है। इसके साथ ही डी’विलियर्स का लौटना भी एक शुभ संकेत रहा। उनके वापस आने से ड्रेसिंग रूम में नई चमक आ जाती है।’