नई दिल्ली। एक संसदीय समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कोई लक्ष्य तय नहीं होने के कारण जीएसटी से मासिक राजस्व संग्रहण उत्साहजनक नहीं है।
 समिति ने कहा कि दरों में बार-बार संशोधन का नई कर प्रणाली की स्थिरता पर असर पड़ता है और इसका कारोबार तथा व्यापार पर प्रतिकूल प्रभाव रहा है।
कांग्रेसी नेता एम वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली वित्त मामलों की स्थायी समिति ने शुक्रवार को संसद में पेश अपनी रिपोर्ट में यह बात कही।