लंदन। इंग्लैंड क्रिकेटर बेन स्टोक्स को ब्रिस्टल में एक बार के बाहर झगड़ा और दो लोगों के साथ मारपीट करने के मामले में मंगलवार को अदालत ने निर्दोष करार दे दिया। 27 साल के स्टोक्स पर ब्रिस्टल में एक बार के बाहर दो लोगों रेयान अली और रेयान हाले के साथ झगड़ा और मारपीट करने का आरोप था, जिस पर पिछले एक सप्ताह से अदालत में कानूनी कार्रवाई चल रही थी।

सितंबर में हुए इस मारपीट मामले में स्टोक्स की पिटाई के कारण एक व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। अभियोजन पक्ष के वकील की दलील थी कि स्टोक्स ने दोनों लोगों के साथ जमकर मारपीट की जिससे वे बेहोश हो गए थे। वेस्टइंडीज़ के साथ वनडे मैच के बाद स्टोक्स कुछ अन्य इंग्लिश क्रिकेटरों के साथ बार गए थे, उनपर अत्याधिक शराब पीकर गाड़ी चलाने का भी आरोप था।

वकील ने यह भी बताया कि एमबार्गो नाइटक्लब में प्रवेश देने से इंकार के बाद स्टोक्स ने दरबानों के साथ बदतमीजी की और दो समलैंगिक पुरुषों की सार्वजनिक रूप से हंसी भी उड़ाई थी। भारत के खिलाफ इंग्लैंड की मौजूदा टेस्ट सीरीज़ के पहले मैच में स्टोक्स ने मेजबान टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी लेकिन अदालती कार्रवाई के कारण वह दूसरे मैच में नहीं खेल सके थे।

इंग्लिश ऑलराउंडर इस घटना के समय अन्य क्रिकेटर एलेक्स हेल्स के साथ मौजूद थे। स्टोक्स ने अदालत में अपने ऊपर लगे आरोपों से इंकार करते हुए कहा कि उन्होंने खुद के बचाव में ही लड़ाई की थी और उन्होंने समलैंगिक जोड़े की मदद की थी न कि उनका मजाक बनाया था।

ऑलराउंडर ने साथ ही अपने बचाव में दलील दी कि वह नशे में नहीं थे लेकिन साथ ही माना कि उन्हें क्या कहा गया था वह उन्हें याद नहीं है। मामले की सुनवाई कर रही पीठ ने माना कि स्टोक्स शाम को नाइटक्लब गए थे लेकिन जब उन्हें प्रवेश नहीं दिया गया तो वह वापिस जाने लगे थे, हालांकि उन्होंने दरबान को रिश्वत देने का प्रयास किया था।

सुनवाई के दौरान दरबान ने कहा कि स्टोक्स बहुत ही आक्रामक थे और विवाद के दौरान उन्होंने उनका काफी अपमान किया। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में दिखाई दिया था कि क्रिकेटर ने झगड़े के दौरान रेयान अली पर मुक्के बरसाए थे। हालांकि 28 साल के अली को भी अदालत ने निर्दोष माना है।

स्टोक्स को इस विवाद के कारण आस्ट्रेलिया के एशेज दौरे के लिए भी इंग्लैंड टीम से बाहर कर दिया गया था लेकिन इस वर्ष फरवरी में ही उनकी राष्ट्रीय टीम में वापसी हुई है। मौजूदा टेस्ट सीरीज़ में भारत के खिलाफ लॉर्ड्‍स मैच से बाहर रहे ऑलराउंडर की इसी के साथ नाटिंघम में तीसरे टेस्ट में वापसी का रास्ता भी खुल गया है।