2018 समाप्त होने में लगभग साढ़े तीन महीने बचे हैं, लेकिन इस दौरान कई बड़े बजट की फिल्मों का प्रदर्शन होना है। एक और हिंदी की सबसे महंगी फिल्म ‘ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान’ दिवाली पर रिलीज होना है तो दूसरी ओर नवंबर में ही दूसरी बड़ी फिल्म ‘2.0’ रिलीज होगी, जो कि सबसे महंगी भारतीय फिल्म है।

अमिताभ बच्चन और आमिर खान अभिनीत फिल्म ‘ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान’ का बजट 200 करोड़ रुपये है और यह देखना दिचलस्प रहेगा कि क्या यह फिल्म आय के नए रिकॉर्ड बनाएगी। क्या यह 500 करोड़ क्लब में एंट्री लेने वाली पहली हिंदी फिल्म होगी?

दूसरी ओर अक्षय कुमार और रजनीकांत अभिनीत फिल्म ‘2.0’ का बजट 540 करोड़ रुपये है। इतनी भारी-भरकम लागत को बॉक्स ऑफिस से वसूलना आसान नहीं है। विभिन्न कारणों से फिल्म का बजट बहुत ज्यादा बढ़ गया है। खासतौर पर पोस्ट प्रोडक्शन के काम में देरी होने के कारण फिल्म को खासा नुकसान उठाना पड़ा है।

फिल्म के मेकर्स इसे कई भाषाओं में और कई देशों में रिलीज कर लागत वसूलने की योजना बना रहे हैं। बाहुबली और दंगल जैसी फिल्में भारतीय सिने इतिहास की सबसे कामयाब फिल्मों में से एक है। बाहुबली के दोनों भाग 250 करोड़ रुपये में बन गए थे, लेकिन ‘रोबोट’ का सीक्वल का ही 540 करोड़ रुपये में तैयार हुआ है।

इस फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर धमाका करना है तो बाहुबली और दंगल जैसी फिल्मों से आगे निकलना होगा, जो कि कठिन नहीं है, लेकिन बहुत आसान भी नहीं है। रजनीकांत के स्टारडम पर सारा मामला टिका हुआ है जिनकी पिछली कुछ फिल्में बॉक्स ऑफिस पर खास प्रदर्शन नहीं कर पाई हैं।

13 सितम्बर को ‘2.0’ का टीज़र जारी हो रहा है। टीज़र को लेकर लोगों की प्रतिक्रियाएं कैसी रहती हैं इसके आधार पर ही तय हो सकेगा कि फिल्म कितना आगे जाती है। फिलहाल फिल्म का पोस्ट प्रोडक्शन का काम चल रहा है।
‘2.0’ पर दुनिया भर के तीन हजार से भी ज्यादा तकनीशियन काम कर रहे हैं। यह अपने आपमें रिकॉर्ड है। 29 नवंबर को प्रदर्शित होने वाली ‘2.0’ में इतना दम है कि यह भारतीय फिल्मों की दिशा में क्रांतिकारी परिवर्तन ला सकती है।